Hindi Blog
  • +91-90156-02000
  • International Patients
  • Empanelments
  • Media
  • Careers
  • Collaborations

आँखों की देखभाल कैसे करे। उसके घरेलू उपाय और खान – पान ।

Hindi Blog

Dr Subodh
Dr Subodh
1 min read

हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है हमारी आँखें, लेकिन अगर हमारी आँखें एक पल के लिए भी हमसे अलग हो जाये तो हमारी ज़िन्दगी में अन्धेरा छा जायेगा। लगातर मोबाइल, टीवी और लैपटॉप में लगे रहने से हमारी आँखे अधिक कमजोर होने लगती है । आप नीचे दिए हुए कुछ टिप्स को अपनाकर अपनी आँखों कि देखभाल कर सकते है:

1. नियमित रूप से नेत्र चिकित्सक के पास जायें।

चिकित्सक Image

अपनी आँखों के स्वास्थ्य को अच्छा बनाये रखने के लिए नियमित रूप से अपनी आँखें चेक कराएं | अपनी आँखों के बारे में अधिक जानें और जब आप अपने डॉक्टर के पास जाएँ, तब उनसे आँखों के बारे में जानकारी लें | आँखों के बारे में ज्यादा जानने और आँखों की बीमारियों को रोकने के बारे में सीखने से आपको बीमारियों पर नियंत्रण करने में मदद मिलेगी | अगर आपको आँखों दृष्टी सम्बन्धी कोई परेशानी नहीं हो इसलिए आपको अपनी:

20 वर्ष से 30 वर्ष की आयु के बीच हर 5-10 साल में
40-65 वर्ष की आयु के बीच हर 2-4 साल में
65 वर्ष की आयु के बाद हर 1-2 सालों में नेत्र चिकित्सक को जरूर दिखाएँ |
2. दिन के अंत में अपनी आँखों के मेकअप को हटायें।

सोने से पहले हमेशा आँखों का मेकअप हटाने का समय निकालें | कभी भी मेकअप के साथ न सोयें | अगर आप आँख लाइनर या मस्कारा के साथ सोते हैं तो इससे आपकी आँखों में पीड़ा हो सकती है | रात के समय मेकअप के साथ सोने से आँखों के आस-पास के रोमछिद्र बंद हो जाते है जिससे गुहेरी हो सकती है और इसे डॉक्टर के द्वारा निकलवाने की ज़रूरत पड़ सकती है | जब आप अपने रात के क्लीनजिंग रूटीन के लिए बहुत थके हुए हो अपने बेड के पास मेकअप रिमूवर पैड्स रखें |

2. आँखों का व्यायाम

आँखों को एक बार छत की ओर देखें एक बार फर्श की ओर देखें। एक बार दाएं तरफ देखें और एक बार बाएं तरफ देखें। आँखों को गोलाई में नजरें घुमाएं पहले एक दिशा और फिर दूसरी दिशा में नजर घुमाए। इससे आपके आँखों का व्यायाम हो जाएगा।

खान – पान

1. हरी पत्तेदार सब्जियां व फल

हरी पत्तेदार सब्जियां व फल Image

आंखों के लिए विटामिन ए सबसे महत्वपूर्ण विटामिन होता है, इसकी कमी से नाइट ब्लांइडनेस की शिकायत हो सकती है। वसा में घुलनशील विटामिन ए की जरूरत सबसे अधिक रेटीना को होती है। हरी और पत्तेदार सब्जियों में विटामिन ए सबसे अधिक पाया जाता है। हरी सब्जियों में मौजूद केरोटिन तत्व विटामिन ए में बदल जाता है। इसलिए पालक, पुदीना, मेथी, बथुआ, सेमी बींस, आदि का सेवन करें। विटामिन सी के सेवन से आंखों की रोशनी बढती है। अमरूद, संतरे, अनानास, तरबूज और अंगूर में विटामिन ए और सी पर्याप्त मात्रा में मौजूद होता है।

2. ड्राईफ्रूट

ड्राईफ्रूट Image

आंखों की रोशनी को बढ़ाने के लिए ड्राईफ्रूट्स का सेवन करना भी लाभदायक होता है। ड्राईफ्रूट्स किंग किशमिश में विटामिन ए, ए-बीटा कैरोटीन और ए-कैरोटीनॉइड से भरपूर होता है, जो आंखों के स्वास्थ्य के लिए बहुत आवश्यक होता है। इसमे मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट आंखों को फ्री रैडिकल्स से लड़ने में मदद करता है। रोजाना किशमिश खाने से आंखों की कमजोरी, मसल्स डैमेज, मोतियाबिंद आदि नहीं होता। सूखी खुबानी में विटामिन ए, बी कॉम्लेक्स और सी की प्रचुरता होती है जो आंखों के लिए फायदेमंद है।

3. जिंक फूड

जिंक आपकी आंखों के स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है। जिंक, विटामिन ए के लिए रेटिना की मदद करता है। बिना जिंक के आंखों को जरूरत के अनुसार पर्याप्त विटामिन नहीं मिला, तो परिणामस्वरूप आपकी नजरें कमजोर होने लगती है। मुंगफली, दही, डार्क चॉकलेट, तिल व कोको पाउडर आदि में जिंक भरपूर मात्रा में पाया जाता है। देखने की क्षमता उम्र भर एक सी बनी रहे। इसके लिए प्याज व लहसुन को अपने खाने में शामिल करना चाहिए। यदि किसी व्यक्ति को मोतियाबिंद की समस्या हो तो उसे सेलेनियम से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए।

4. अंडा व मछली

अंडा व मछली Image

आंखों के लिए अंडा काफी लाभदायक होता है। कैरोटिनायड्स का निर्माण करने वाले ल्यूटिन व जीजेंथिन नामक तत्व किसी अन्य पदार्थ की अपेक्षा अंडे में प्रचुरता में पाए जाते हैं। रोज एक अंडा खाने से केरोटिनाइड्स की कमी के कारण आंखों के सेल्स में होने वाला क्षरण रोका जा सकता है।आंखों के लिए अंडा काफी लाभदायक होता है। रोज एक अंडा खाने से केरोटिनाइड्स की कमी के कारण आंखों के सेल्स में होने वाला क्षरण रोका जा सकता है। मछली में ओमेगा 3 भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो आंखों की रोशनी के लिए लाभदायक होता है।

5. बादाम वाला दूध

हफ्ते में 3 बार बादाम वाला दूध पीएं। इसमें विटामिन ई होता है जो आंखों के विकार दूर करने में फायदेमंद होता है। विटामिन ई जैसे ऐंटीऑक्सिडेंट्स आंखों के लेंस को फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचाते है। सभी प्रकार के खाने वाले तेलों में गिरीदार फलों तथा बीजों में विटामिन ई पाया जाता है। इनके सेवन से आंखें बहुत अच्छी रहती हैं। इनके सेवन की आदत डाल लें और अपनी दैनिक खुराक में इन्हे शामिल कर लें।

Also Read: How to Take Care of Eyes Daily